दर्दनाक: इस भारतीय क्रिकेटर के मुंह पर लगी गेंद, नाक से खून बहा, दांत टूटे, करानी पड़ी चेहरे की सर्जरी

0
336

भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket) के प्रशंसक पंकज रॉय को तो जानते ही हैं. वही पंकज रॉय जिन्‍होंने वीनू मांकड़ के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 413 रन की पार्टनरशिप का वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनाया था. बेशक ये रिकॉर्ड बाद में टूट गया, लेकिन पंकज रॉय का नाम लोगों की जुबां पर चढ़ गया. आज उन्‍हीं पंकज रॉय के बेटे प्रणब रॉय (Pranab Roy) का जन्‍मदिन है. पिता की तरह ही प्रणब ने भी भारतीय टीम के लिए टेस्‍ट क्रिकेट खेला, लेकिन उनका करियर काफी सीमित रहा. 13 जनवरी से 4 फरवरी 1982 के बीच उन्‍होंने अपने टेस्‍ट करियर के दोनों मुकाबले खेल लिए. मगर क्‍या आप जानते हैं कि बचपन में उनके साथ क्‍या हादसा हुआ था.

प्रणब रॉय ने क्रिकेट में तब से दिलचस्‍पी लेना शुरू कर दिया था जब उनकी उम्र महज 9 साल की थी. शुरुआती स्‍तर पर उन्‍हें सुंदर बिस्‍वास ने कोचिंग दी. प्रणब की पहचान एक बेहतरीन बल्‍लेबाज की थी, जो मुश्‍ताक अली को अपना आदर्श मानते थे. शुरुआती स्‍तर पर क्रिकेट खेलते वक्‍त प्रणब रॉय एक बार बड़े हादसे का शिकार हो गए थे. तब उनकी उम्र 12 साल की थी. प्रणब अपने दोस्‍तों के साथ क्रिकेट खेल रहे थे. तभी लेदर की एक गेंद उनके चेहरे पर आकर जोर से लगी. उनके दांत वहीं टूटकर गिर गए और नाक से खूब खून बहने लगा. उन्‍हें कोलकाता के अस्‍पताल ले जाया गया, जहां उनके चेहरे की सर्जरी की गई.

प्रणब ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में बनाए 16 हजार से ज्‍यादा रन

जहां तक बात प्रणब रॉय के करियर प्रोफाइल की है तो उन्‍होंने टीम इंडिया के लिए जो 2 टेस्‍ट मैच खेले, उनमें उनके बल्‍ले से 35.50 की औसत से 71 रन बनाए. उनका उच्‍चतम स्‍कोर नाबाद 60 रन रहा. वहीं प्रणब ने 72 प्रथम श्रेणी मैचों में भी हिस्‍सा लिया, जिसमें उन्‍होंने 40.96 की औसत और 13 शतक व 11 अर्धशतकों की मदद से 4056 रन बनाए. उनका उच्‍चतम स्‍कोर नाबाद 230 रन रहा. इसके अलावा उन्‍होंने 12 लिस्‍ट ए मैच भी खेले. इस प्रारूप में प्रणब रॉय ने 13.90 की मामूली औसत के साथ महज 153 रन बनाए. वो कोई भी अर्धशतक नहीं लगा सके और उनका उच्‍चतम स्‍कोर 36 रन रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.