यूनियन बजट २०११-२२

आज़ादी के बाद पहली बार यूनियन बजट 2021 का पेपर प्रिंट नहीं होगा। यह केंद्रीय बजट पूर्ण रूप से पेपर लेस यानी ऑनलाइन फॉर्म में होगा ।कोरोना महामारी के चलते यह बढा फैसला मोदी सरकार ने लिया है ।पहली बार यूनियन बजट पूर्ण रूप से पेपरलेस किया जा रहा हैं, हर साल केंद्रीय बजट को प्रिंट किया जाता रहा है लेकिन इस साल यह पेपर लैस होगा।

केंद्रीय बजट से जुडी सामान्य जानकारी :

केंद्रीय बजट भारतीय गणराज्य का वार्षिक बजट है जिसे हर साल वित्त मंत्री द्वारा फरवरी के पहले कार्य दिवस को संसद में पेश किया जाता है ।
जिस तरह एक आम आदमी आपने घर का हर महीने बजट बनता है उसी तरह सरकार पूरे देश का वार्षिक बजट तैयार करती है ।जिसमे सरकार की आमदनी व खर्च को देखा जाता है तथा उसी आमदनी के तहत बजट तैयार होता हैं।

यूनियन बजट 2021-22:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस साल वर्ष 2021-22 का बजट 1 फरवरी को सुबह 11 बजे संसद में पेश करेंगी । हर साल सांसदों के लिए मीडिया से जुड़े लोगो के लिए बजट की कॉपियां छाँपी जाती रही है ,परन्तु इस साल केंद्रीय बजट 2021 की सॉफ्ट कॉपी जोकि पेपरलेस हैं वह सांसदों को दी जाएगी।2020-21 की थीम ‘ ईज ऑफ लिवीगं’थी ।

इस साल के बजट सत्र कि शुरूआत:

बजट सत्र दो चरणों में होगा पहला चरण जनवरी के आखिर से शुरू होके मिड फरवरी तक रहेगा फिर करीब 16 फरवरी से 7 मार्च तक का ब्रेक होगा फिर उसके बाद 8 मार्च से दुसरे चरण की शुरुआत होगी बजट की सॉफ्ट कॉपी संसद के सदस्यो को और मीडिया के कर्मियों को साझा कर दी जायेगी। इस साल किस क्षेत्र को कितना बजट नियुक्त किया जाएगा यह देखना मनोरंजक होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.